कॉलेज लड़के लड़कियों की ग्रुप में चुदाई गांड और चूत का मैल एक साथ साफ़ हुआ

मैं अपनी क्लासमेट के बारे में बता दूं, उस का नाम अनु है. वह दिखने में एकदम क्यूट है, छोटी सी है लेकिन बॉडी उस की बहुत ही जबरदस्त है. उस के पहले भी चार बॉयफ्रेंड रह चुके थे और शायद उस ने सभी से भरपूर चुदाई भी की होगी. इतनी सेक्सी गर्लफ्रेंड होगी तो कौन नहीं चोदेगा. वैसे अभी वह एक महीने से सिंगल थी तो शायद चुदाई भी नहीं होगी एक या २ महीने से. दिखने में वह बिल्कुल भी लूसी पिंटर के जैसे दिखती है लेकिन उनका फेस छोटा और क्यूट सा है.

अनु की बॉडी के बारे में बता दूं. हाइट : ५ फुट ६ इंच है. उसका वजन ५० किलो है. उसका फिगर : ३८-२९-३६ हे.

वह दिखने में गोरी सी हे, थोड़ी स्लिम लेकिन बूब्स बड़े बड़े थे और गांड भी बहुत मस्त थी. उस के बाल एकदम ब्राउन कलर के थे और उस का फेस छोटा सा क्यूट सा राउंड सा सुंदर था. तो अब आज की कहानी पर आते हैं. यह स्टोरी नए साल की है. हम लोग न्यू इयर पर सभी ग्रुप के फ्रेंड मनाली गए हुए थे. हम ६ लोग थे. मैं तब सिंगल था तो सिर्फ फ्रेंड के लिए गया था और हमारे ग्रुप में दो कपल भी थे.

मेरे फ्रेंड के बारे में बता दूं.

नवनीत : इसको मैंने पहले बहुत बार चोदा था. लेकिन अब उस का बॉय फ्रेंड था कर के नहीं चुदाती थी.

अंशु : दिखने में हॉलीवुड मॉडल इमोजेन थॉमस टाइप की थी.

हम लोगों ने एक होटल में चेक इन किया तब पता चला रूम ही नहीं है, सिर्फ तीन रूम थे, जिस में से दो डबल रूम थे और एक सिंगल बेड था. हम ने वह तीनों रूम ले लिया तो हमने डिसाइड किया कि एक डबल बेड रूम में दो लड़कियां रहेंगी और एक डबल रूम में हम तीनो बोइज रहेंगे, और एक लड़की सिंगल वाले में. फिर हम सब घुमे पूरा दिन और रात को जब वापस आए तब दोनों कपल्स ने बोला थोड़ा प्रायवसी चाहिए उन को ताकि थोडा टाइम साथ में रहे.

हम ने भी ऐसा ही किया और सिर्फ उस रात के लिए रूम चेंज किए. तब मैं और अनु एक रूम में आ गए जो कि सिंगल बेड था और बाकी दोनों कपल्स दोनों डबल वाले में थे. हमारा रूम दोनों और रूम के बीच में था और होटल का रूम था कर के दोनों के बीच की दीवार भी पतली थी तो आवाज आती थी. मैं और अनु बस ऐसे ही बातें करते रहे थे. दोनों जिस रुम में थे वह रूम उन कपल में से एक लड़की का रूम था. तो गलती से अनु का हाथ उस के बैग में पड़ा और वह गिर गया, तब उस में से पूरा सामान बाहर गिर गया. जिस में अनु ने जो देखा वह देख कर शरमा गई. उस में से तीन बॉक्स कंडोम के निकले थे. अलग अलग फ्लेवर और टेक्सचर वाले. हम ने बैग बंद किया और चुपचाप बैठ गये.

फिर हम जब शांत थे तब एक साइड के रूम से धीरे धीरे आवाज आने लगी. हम दोनों ने ध्यान लगा कर दीवार से सर चिपका के सुन रहे थे. तब हमने उन की बातें सुनी उसे साफ पता चल रहा था दोनों का आज का प्लान.. वैसे भी बहुत ठंडी का मौसम था. तब वह दोनों बोलने लगे की धीरे धीरे करेंगे नहीं तो आवाज आएगी. मैं समझ गया आज रात को दोनों बहुत चुदाई करने वाले हैं. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम फिर उस में से एक लड़की की आवाज आई, “थोड़ा और यह डीप हम्म… और जोर से करो…” और फिर वह मोन करने लगी. हम दोनों समझ गये दोनों की चुदाई चल रही है. यह सुन कर मेरा भी मन चुदाई का करने लगा. फिर हमने दूसरी साइड से रूम में सुनने लगे. वहां भी यह सब चल रहा था. उसमें से आवाज आ रही थी, लड़की बोल रही थी आज डोटेड वाला लाइ हूं. रगड़ के करना. फिर थोड़ी देर से जोर जोर से आ उऔ उः औउ ओ अह अस्स औऊ ई फक मी बेबी आयी एयस आयी एस यायेस्य ययय येई इई अऊ ओह ओओओ जो ऊओं मम्म ओओं औएव्स मोन करने की आवाज आने लगी. अब दोनों रूम के अंदर चुदाई चल रही थी. इतने में हम ने ध्यान नहीं दिया मेरा लंड अब खड़ा हो गया था जो लोवर में से साफ़ साफ दिख रहा था. अनु उसे बार बार देख रही थी और ललचा रही थी.

तब मेंने ध्यान दिया कि रूम में सुनते हुए अनु के बूब्स मेरे सर के ऊपर थे, मस्त बड़े बड़े और बहुत ही सॉफ्ट सॉफ्ट बूब्स थे. मेरा मन कर रहा था उस को तुरंत चोदने लग जाऊ. लेकिन अभी तक वैसा कुछ माहौल नहीं बना था. फिर हमने सोचा सो जाते हैं. सिंगल बेड था कर के हमने साथ में चिपक कर सोना पड़ा. मेरा लंड वैसे भी खड़ा था उस पर वो सिल्की गाउन पहनी हुई थी, अंदर कुछ नहीं था. गाउन से उस के निप्पल साफ दिख रहे थे और गांड में भी शेप दिखाई दे रहा था. ऐसा देख कर तो किसी का भी खड़ा हो जाता, और अब उस का भी मूड चुदाई का करने लगा था.  लेकिन हम दोनों कुछ बोल भी नहीं रहे थे. जब वह फ्रेश हो कर सोने गई तो उस ने देखा मेरा लंड खड़ा था. तब वह दूसरी साइड पलट कर सो गई अपनी गांड मेरे लंड से चिपका कर सोने का नाटक करने लगी, और वह हल्का हल्का हिलने लगी थी. मैं भी समझ गया था. मेने धीरे से अपना एक हाथ उस के बूब्स पर रख दिया, अब धीरे धीरे दबाने लगा. फिर धीरे से अपना हाथ उस के गाउन के अंदर डाल दिया. तब तक दोनों में रूम से चुदाई की आवाजे उऔ उः औउ ओ अह अस्स औऊ ई फक मी बेबी आयी एयस आयी एस यायेस्य ययय येई इई अऊ ओह ओओओ जो ऊओं मम्म ओओं औएव्स आ रही थी मैं समझ गया यह भी मजे करना चाहती है.

यह मेरे लिए ग्रीन सिग्नल था. मैंने तुरंत अपना दूसरा हाथ से उसकी चूत को उस के गाउन के ऊपर से सहलाने लगा. उसकी चूत गीली होने लगी थी और वह हल्का हल्का हिलने लगी. मैंरे लंड को अपनी गांड में दबाने लगी.

उस का गाउन बेकलेस था जिस में पीछे से बस एक डोरी लगी हुई थी और कमर तक का खुला हुआ था.. और कमर के नीचे से बस एक फ्रॉक टाइप था जो सिर्फ जांघों को ढकता था. फिर मैंने अपना हाथ उसके बूब्स से हटा दिया तो उस ने मेरा दूसरा हाथ जो उस की चूत पर था उस को दबा दिया.. और फ्रॉक को सामने से हल्का उठा दिया और मेरा हाथ सीधा चूत पर रख दिया.. फिर मैंने उसे बोला.

मैंने कहा : बड़ी एक्सपर्ट लगती हो.

अनु ने कहा : तो यह शेप अपने आप थोड़ी ना आता है..

मैंने कहा : तो कितने मजदूर लगे हुए इस मूर्ति को तराशने के लिए?

अनु ने कहा : आज तक तो ४ मजदूर की मेहनत हुई है. बाकी का फर्निशिंग आज  पांचवां मजदूर कर देगा.

बस प्रेगनेंट मत कर देना.

मैंने कहा : तू बता कौन सा वाला पसंद है.. डॉटेड.. चाकलेट. या सिंपल वाला.

अनु ने कहा : डॉटेड ही चाहिए.

फिर मैंने एक पैकेट निकाला कंडोम का और रख दिया उस के पास.

अब हम दोनों उठे और मैंने उस के गाउन की डोरी पीछे से खोल दी, जैसे ही डोरी खुली वैसे ही सामने से कपड़ा नीचे हुआ और उसके बड़े बड़े बूब्स मेरे सामने आ गये. फिर मैंने उसे बच्चों की तरह सक किया और एक हाथ से एक बुब को दबा रहा था और दूसरा बूब सक कर रहा था, और अपने दूसरे हाथ से उसकी चूतम में उंगली कर रहा था, वह धीरे धीरे सिसकारियां ले रही थी. फिर ऐसे ही ५ मिनट बाद में खड़ा हुआ और अब वह जुक कर मेरा लोवर  नीचे उतारी और मैंने अपना टी शर्ट उतार दिया. उस के लोवर निचे करते ही मेरा ८ इंच का लंड उस के सामने था. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम वह पगला गई और बोली पहली बार देखी है इतना बडा लंड. वह धीरे धीरे उस को ऊपर नीचे कर के हिलाने लगी. फिर वह धीरे से मेरे लंड को अपने मुंह में ले ली और अब धीरे धीरे पूरा लंड मुंह में ले लिया और जो उस के गले तक जा रहा था. उस को चोकिंग भी हुई लेकिन फिर भी वह अंदर तक लंड चूस रही थी. तब मैं एक बार जड गया उसके मुंह में और वो पूरा पी गई.

फिर वह वहीं बेड में बैठ गई और टांगे फैला दी, अभी मैं उस के नीचे गया और उस की चूत चाटने लगा और बीच बीच में जीभ अंदर भी डाल रहा था. फिर वह भी जड गई. अब मेरा लंड भी फिर से खड़ा हो गया. उसने मुझे लिटाया और ऊपर आकर बैठ गई. फिर उसने कंडोम का पैकेट खोला और लंड के ऊपर रख दी और अपने मुह से  उस को पूरा पहना दिया. अब वह मेरे ऊपर आ कर बैठ गई और लंड धीरे धीरे कर के पूरा अंदर तक ले गई. उस को बहुत बार करने की आदत थी ऐसा कर के पूरा अंदर ले लिया. मेरे ऊपर उछलने लगी, उस के बूब्स बड़े बड़े बूब्स ऊपर नीचे उछल रहे थे. मैंने उस के बुब को दोनों हाथों से पकड़ा है और वह जोर जोर से उछलने लगी ऊपर नीचे. फिर वह थोड़ी देर में मेरे ऊपर लेट गई लंड अंदर डाल कर, और अब थोड़ा कर के आगे पीछे करने लगी. ऐसा ही १५ से २० मिनट तक चलता रहा और वह थक कर साइड में लेट गई.. फिर मैं उठा और उस के गांड के नीचे एक पिलो रखा और धक्का देना चालू किया.. वह आंख बंद कर के बस मजा कर रही थी. ऐसे ही करीब २० से २५ मिनट तक चला. फिर मैं भी झड़ गया और हमने कंडोम निकालकर साइड में फेका और थोड़ा आराम किया.

फिर २५ मिनट के बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. अब मेने फिर से एक डोटेड कंडोम पहना और अनु को डॉगी बनने को बोला. वह तुरंत डॉगी बन गई पीछे से गांड में लंड डाल दिया वह चीखने लगी गलत जगह है.. औउ अह्ह्ह सामने डाल पीछे से नहीं, दर्द हो रहा है. निकाल निकाल दे,, मर जाऊंगी…

लेकिन फिर भी मैं डालता रहा और एक लास्ट जटके में पूरा लंड गांड में डाल दिया और जुक कर उसे किस किया. अब उस का सर बेड़ में दबा ली थी, लेकिन अब धीरे धीरे ठीक हो रही थी. अब उसका सर बेड पर दबा हुआ था और गांड उठा कर रखी थी. मैं उस की गांड में लंड डाले जा रहा था. फिर ३० मिनट के बाद में जड गया और साइड में लेट गया. फिर हम दोनों थोड़ा रेस्ट किए.

टाइम देखा तब पता चला हम ढाई घंटे से सिर्फ चुदाई कर रहे थे, अब हम उठे और नहाने के लिए बाथरुम में गए. हम दोनों साथ में ही नंगे नहाने के लिए बैठे और वह मेरे ऊपर आ गई. मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. अब हम बाथटब से निकलकर वहीं खड़े थे. मैं उस को भी बेसीन के सामने ले गया और बेसिन के सहारे झुकाया, और पीछे से लंड उस की चूत में डालने लगा. यह हम मिरर में देख रहे थे, ऐसे में और भी जोश आ गया और हम लोग वहा भी ३० मिनट चुदाई किए.

फिर मैं शोवर के नीचे स्टूल पे बैठा था और वह आ कर मेरे लंड के ऊपर बैठ गई और हम शोवर के नीचे चुदाई कर रहे थे, फिर ऐसे ही ३० मिनट के बाद हम दोनों नहाए और बाहर आ कर सो गये वैसे ही नंगे.

फिर सुबह जब हम उठे तब ६ बज गए थे. वह मेरे ऊपर सोई हुई थी नंगी. हम ने एक और बार जल्दी से चुदाई की और नहाने चले गए. हम दोनों रात भर में ६ बार चुदाई कर चुके थे और अब थकने लगे थे. हम नहा कर आए और नंगे ही सो गए कंबल ओढ़ कर.

फिर हमारे फ्रेंड आये रूम में. सब थके होते हुए थे रात भर की चुदाई से, लेकिन सबसे ज्यादा सिर्फ मैंने और अनु ने ही चुदाई किए थे. हम दोनों कंबल के अंदर सो रहे थे चिपककर. तभी सब आ गए थे हमें उठाने. उन में से एक नवनीत भी थी, जिसकी मेने पहले बहुत बार चुदाई की थी. अब वह बॉयफ्रेंड बना ली थी कर के मेरे से नहीं चुदवा रही थी, और दूसरी लड़की भी मस्त सेक्सी लड़की थी लेकिन थोड़ी मोटी थी, लेकिन मोटी होते हुए भी उसका फिगर बहुत ही मस्त है. उतने में नवनीत हमे उठा रही थी, हम तब भी सोए हुए थे चिपक कर. नवनीत ने साइड में तीन कंडोम देखें इस्तेमाल किये हुए, तब वह बोली यह लोग इतनी जल्दी कैसे उठेंगे? तीन कंडोम खत्म कर चुके हैं पहले ही और हंसने लगी. तब उस ने झटके से कंबल खींच कर हटा दिया, तब हम अचानक से उठे और देखे तो हम सब के सामने नंगे बेड पर पड़े थे, हम दोनों एक साइड पलट कर चिपक कर सोए हुए थे, अनु मेरे सामने सोई थी, और मेरा एक हाथ उसके ऊपर था और दूसरा उस की चूत के उपर, उस की पीठ मेरी तरफ थी और मेरा लंड उस की दोनों जांघो के बीच में था. हम दोनों अचानक से उठे, तब अंशु थोड़ा शरमा गई क्योंकि उस के लिए यह सब नया था, लेकिन नवनीत को तो आदत हो गई थी मेरे से चुदाई की इसलिए उसे कोई फर्क नहीं पड़ा. बाकि दोनों लड़के ललचा रहे थे अनु की इतनी सेक्सी बॉडी देख कर.. मेने कंबल वापस ले कर थोड़ा सा कवर कर लिए.

वह लोग बोले

नवनीत ने कहा : लगता है यहां भी रात को काफी कुछ हुआ है.

अंशु ने कहा : बहुत मेहनत किए है लगता है दोनों.

मैंने कहा : बहुत ज्यादा किए है पूरी रात.

अंशु ने कहा : कितनी बार कर लीये?

अनु ने कहा : ज्यादा नहीं बस ६ बार.

सब लोग शोक्ड रहे गए.

अंशु ने कहा और आवाज तो नहीं आई.

अनु ने कहा तुम लोगों के जैसे थोड़ी था.. बहुत एक्सपीरियंस के साथ मजे हुए हैं.

इतना बोल कर हंसने लगी.

तब मैंने अपना शोर्ट पहना और शर्ट पहना, अनु भी एक डेनिम का शोर्ट पहनी जो की बहुत ही छोटा था, जिस से उस की पूरी जांघे ऊपर तक ही था, और एक क्रॉप टॉप पहनी थी जो सिर्फ ब्रा के जैसा था, लेकिन बेकलेस था और उस की क्लीवेज साफ दिख रही थी. फिर उस ने एक जर्सी पहनि क्योंकि ठंडी का मौसम था. तब हम सब बातें कर रहे थे.

नवनीत ने कहा : तो अनु बता कैसे रहा एक्सपीरियंस? पहली बार था क्या?

अनु ने कहा : पहली बार तो नहीं था, लेकिन ऐसा मजा पहली बार हुआ, इतना मजा पहली बार आया है.

नवनीत ने कहा : मुझे मालूम है यार.. मैंने भी एक्सपीरियंस किया है.. यह वाला.

नवनीत का बॉयफ्रेंड बोला : यह क्या बोल रही है?

नवनीत ने कहा : अब जब सब ईतने फ्रेंक हो गए इसलिए बता दिया.. मैंने पहले बहुत बार समर से सेक्स किया है. इसी ने मेरी पहली बार चुदाई की थी, हम एक साल तक रोज चुदाई करते थे. बहुत मजे किए थे हमने..

अंशु का बॉयफ्रेंड बोला : तू भी बता दे पहले कितने लंड मारी है?

अंशु ने कहा : यह मेरा फर्स्ट टाइम था इसलिए मुझे तो बहुत मजा आया.. थोड़ी देर के लिए था लेकिन बहुत मजा किए.

अनु ने कहा : कितनी देर तक?

अंशु ने कहा : बस ३० मिनट तक. तू कितना की?

अनु ने कहा : हम तो अभी ६ बजे तक कीये है, रात भर में ६ बार तो हो ही गया है.

सब शोक्ड हो गए.

फिर हम भी हंसते हुए बोले.

चलो यार भूख लगी है कुछ खाने के लिए ले आते हैं. अंशु और नवनीत तुम लोग जाकर ले आओ ना लंच.

फिर अंशु और नवनीत दोनों लंच लेने गए.. दोनों के बॉयफ्रेंड अपने रूम में गए नहाने के लिए और हम दोनों भी नहाने के लिए गए. और वहां एक बार बार सेक्स किए. मेरा मन भरने लगा था एक ही लड़की को कल शाम से कंटीन्यूअस चोदे जा रहा था. हम दोनों ने लगभग हर पोजीशन में सेक्स किए थे. फिर हम बाथरुम में चुदाई कर के बाहर आए.  तब मैं बस टॉवेल लपेटा हुआ था और अनु भी बस सर में टॉवेल बंधी हुई थी और पूरी नंगी थी. उसके बूब्स लाल हो गए थे जिसे मैंने चूस चूस कर लाल किया था, उस की गांड भी लाल हो गई थी और चुत फुल गयी थी.

हम दोनों मस्ती में बाहर आए तो वह मेरी गोदी में थी. हग कर के दोनों पैर उठाकर मेरी कमर में बांधी थी. और हम किस करते हुए बाहर आए वैसे ही, हमने देखा कि दोनों लड़कियों के बॉयफ्रेंड वहां बैठे हुए थे. वह लोग बोलते हैं कितनी चुदाई मारते हैं दोनों. अभी तक करते जा रहे हो. अनु तू इतनी बड़ी रंडी निकली ऐसा लगता नहीं था, कितनों को एक साथ चोदी है, समर तेरी तो किस्मत ही खुल गई कल से बस चोदे ही जा रहा है.

फिर मैंने उसे बेड पर पटका और बोला,”तो अब तुम दोनों भी थोड़ा मजे कर लो”

फिर वह दोनों अपने कपड़े उतारे और अनु के ऊपर टूट पड़े.

अनु ने कहा : अरे भोसड़ी के.. भाग नहीं रही हु.. आराम से करो.. यही हूं मैं. एक एक करके आओ ना.

इतने में वह दोनों अनु की चूत और गांड चाटने लगे.

मैंने अनु को किस किया और उस को लंड चूसने के लिए बोला. उस की चुदाई कर कर के मैंने तो पहले ही उस की चूत फुला दी थी और गांड भी लाल कर दिया था. इसलिए अब बस लंड चूस रहा था. इतने में मैंने देखा अंशु आ कर दरवाजे के पास खड़ी थी. वह यह सब देख कर गर्म हो रही थी. तब अंशु का बॉयफ्रेंड बेड पर लेट गया और अनु उस के लंड पर बैठ गई. फिर पीछे से नवनीत का बॉय फ्रेंड उस की गांड में भी लंड डाल दिया था. वह चीखने वाली थी तभी मैंने अपना लंड उस के मुंह में दे दिया. अनु की तीन लंड से एक साथ चुदाई हो रही थी. फिर मैंने अपना वीर्य अनु के मुह के अंदर डाल दिया और अंशु के पास गया और वैसे ही नंगे रह कर जोर से हग कर दिया और बोला.

कल तू पहली बार चुदी थी इसलिए थोड़ी देर में शांत हो गई, आज देखना कितना मजा आने वाला है?

उसके बूब्स इतने सॉफ्ट और बड़े बड़े थे जीसे टच करते ही मेरा बड़ा हो गया.

अंशु ने कहा : कितना मस्त अनु आज तिन को एक साथ चोद रही है, मजा आ रहा है देख कर.

(उसने बताया नवनीत पार्लर गई है तो थोड़ी देर से आएगी) फिर मैंने उस के हाथ से लंच लीया और साइड में रखा.

उस के बारे में बता दूं. वह एक पिंक फ्रोक टाइप का स्लीवलेस ड्रेस पहनी थी, जो कि बस जांघो तक का था, और एक लेदर जैकेट. मैंने उस का जैकेट उतार कर साइड में फेंका और उसे किस करने लगा. वह भी साथ दे रही थी. फिर मैंने उस की फ्रोक की पीछे से जीप खोल दी और सामने से नीचे किया, जिस से उसके बूब्स आजाद हो गए. उसने अंदर ब्रा नहीं पहनी थी. मैंने उस को अपनी गोदी में किया और सोफे पर पटक दिया. उस की फ्रॉक को ऊपर उठाया और पैंटी उतार दी. अब वह पूरी गीली हो चुकी थी. तो मैंने देर ना करते हुए अपना लंड उसकी चूत में डाला. अभी बस टोपा ही अंदर गया था कि वह जोर से चिल्लाने लगी.

मैंने उस के ऊपर लेटकर किस किया और थोड़ी देर बाद एक झटके में पूरा लंड अंदर डाल दिया, वह छटपटाने लगी थी. थोड़ी देर वेसे ही लेटा रहा और अब धीरे धीरे चोदना चालू किया. वह भी मजे से चुदवा रही थी. फिर ३० मिनट बाद मैंने उसको डॉगी बनने को बोला, अब उसकी गांड में डालने वाला था. मैंने चुपके से एक वियाग्रा की टेबलेट खा ली, इससे मेरा लंड बड़ा और टाइट हो गया. मैंने एक कंडोम लिया और लंड के ऊपर लगा दिया और उस के ऊपर थोड़ा सा वेसेलिन लगाया और धीरे धीरे लंड अंदर डालने लगा, अंशु सोफे मैं झुकी हुई थी और मोन कर रही थी. फिर ऐसे ही धीरे धीरे मैंने अपना पूरा लंड अंदर डाल दिया और उसकी गांड मार रहा था. तब तक अनु और उन दोनों के बॉयफ्रेंड थक कर सो गए थे. अब करीब ३० मिनट तक मैं उसकी गांड मारता रहा, और वह मुझसे चुदवा रही थी, क्या बताऊं दोस्तो कितना मजा आ रहा था? इतनी मस्त मोटी और सुडोल गांड चोदने में. फिर मैंने वेसे ही सोफे पर बैठ गया और वह मेरे लंड के ऊपर आकर बैठ गई.

अब वह ऊपर नीचे कर के चुदने लगी. मैं भी मजे से चोद रहा था, थोड़ी देर बाद हम दोनों झड़ गए और सोफे पर लेट गए, फिर हम थोड़ी देर बाद सो कर उठे और सब ने लंच किया और वैसे ही नंगे थे रूम में. फिर थोड़ी देर से नवनीत भी आ गयी  और बहुत थकी हुई थी, वह भी आज पार्लर से चुदवा कर आई हुई थी, सबने खाना खाया और फिर शाम को चुदाई की. अब मेने नवनीत को भी चोदा. हमने एक हफ्ते तक सिर्फ चुदाई कीये थे. फिर हम वापस अपनी सिटी आकर भी बहुत बार चुदाई की है लेकिन अकेले अकेले में. आप लोगों ने यह स्टोरी एक बार में पढी नहीं होगी, बीच में भी बहुत पर जड़े होंगे, यह एक सच्ची घटना थी. आप लोगों को यह स्टोरी कैसी लगी मुझे जरुर लिखकर भेजिए.


Online porn video at mobile phone


xxx sex story hindibhabhi ne doodh pilayamama bhanji ki chudaiperiod me chodasex story hindi momsex story in hindi with imagehindi sex picchhat pe chudaigay porn story in hindiuncle ne mummy ko chodamosi ki chut marijija sali hindi sex storybaap beti hindi sex storysexstoryin hindibahan ki chudai ki storyjija sali hindi storyhinde sex store comhindi latest sex storyhindi sexy story bhai behanbahu ki chudai hindi kahanimami ki sexy storiessex story of auntybrother and sister hindi sex storyhindi full sex storyjija sali sex kahaniantarvasa combap beti ki chodai ki kahanichudasi bhabhi comhindi garam kahanimazdoor se chudaidesi randi ki chudai ki kahanibudhe ne gand maribhabhi ne doodh pilayahindi sister sex storywww dadi ki chudai comdesi randi ki chudai kahanichudai ke hindi chutkulechudai ki hindi font storyhindi porn khaniyasaas aur damad ki chudaibest sex story in hindimousi ki chudai storychoot marne ki storyindian porn story in hindibehan ki saas ko chodamami ki sexy storiesantsrvasna comsex story of auntybua chudai ki kahanichudai story jija saliwww sex story hindigirlfriend ki maa ki chudaissex story in hindidadi ki choot marimoti aunty ki chudai ki kahanimajdoor ki chudaitrain me aunty ki chudaineend me chachi ko chodagujrati sexy vartahindi sex photo comlong hindi sex storiestution didi ko chodadadi ki chutbhabhi ko bus me chodamasterni ki chudaisasur se chudai kahanihindi gangbang storiesantarvasna suhagratchudai ki kahani ladki ki zubanisardi me chudaibahu ki chut me sasur ka lundsasur bahu chudai kahaniantetvasanabhabhi ko choda hot storygaandu storiesdesi sex hindi kahanigeeli chootsaroj bhabhi ki chudaiincest sex kahanibahu sasur sex storywww antarvasna hindi sex story comchudai sikhaimausi ki ladki ko chodadesi story comvidhwa aunty ko chodahindi sexy storyporn book in hindipapa ne meri gand marilund dikhayamami ne chodna sikhayachachi aur bhatije ki chudai ki kahanibhatije se chudai